पुरुषों का औसत वजन: मतलब और सुझाव – Average Weight Of Men: Meaning And Tips In Hindi

n order to find out the average weight for men, we need to look at a large group of men and take the mean of their weights.

Contents

औसत वजन क्या है – What Is Average Weight In Hindi

What Is An Average Weight?पुरुषों का औसत वजन जानने के लिए हमें पुरुषों के एक बड़े समूह को देखने और उनके वजन का मतलब निकालने की जरूरत है। औसत वजन को लोगों के समूह के औसत वजन के तौर पर परिभाषित किया जाता है। हालांकि, यह ध्यान रखना जरूरी है कि एक समूह के अंदर सभी व्यक्तियों का वजन हमेशा अलग-अलग होता है। इसका मतलब आदर्श वजन जैसी कोई चीज नहीं होना है। यह वजन की एक श्रृंखला है, जिसे स्वस्थ माना जाता है। इसलिए जरूरी है, कि आप अपनी तुलना दूसरों से करने की बजाय अपनी सेहत पर ध्यान दें। प्रारंभिक बिंदु प्राप्त करने के लिए तुलना की जानी चाहिए, जो औसत वजन है। उसके बाद आप इस बारे में सोचना शुरू कर सकते हैं कि कौन-सी श्रेणी आपके लिए खासतौर से स्वस्थ होगी।

एक आदमी को कितना वजन करना चाहिए, इस पर बहुत सारे परस्पर विरोधी मत हैं। कुछ लोग कहते हैं, कि आपको औसत से कम वजन के लिए लक्ष्य बनाना चाहिए। जबकि, अन्य लोगों का मानना ​​है कि औसत या उससे ज्यादा वजन की कोशिश करना सबसे अच्छा है। अगर आप भी इसका सही जवाब और आदर्श वजन निर्धारित करने के तरीके जानना चाहते हैं, तो यह ब्लॉग पोस्ट आपके लिए बहुत फायदेमंद है। इसमें हम पुरुषों के औसत वजन पर एक नज़र डालेंगे। साथ ही हम यह पता लगाने के लिए आपको कुछ सुझाव भी प्रदान करेंगे कि आपका आदर्श वजन क्या है।

आपको कितना वजन करना चाहिए – How Much Should You Weigh In Hindi

BMI maleआपको कितना वजन करना चाहिए, इसे जानने अलग-अलग तरीके हैं। बॉडी मास इंडेक्स (बीएमआई) का उपयोग इसका सबसे अच्छा तरीका है। बीएमआई आपकी ऊंचाई और वजन के आधार पर शरीर में वसा की माप है। आप बीएमआई कैलकुलेटर या निम्नलिखित फॉर्मुले से अपने बीएमआई की गणना कर सकते हैं:

बीएमआई = वजन (किलोग्राम में) / ऊंचाई (मीटर में)^²

उदाहरण के लिए, अगर किसी आदमी का वजन 80 किलोग्राम और लंबाई 180 सेंटीमीटर है, तो बीएमआई 24.69 होगा।

वयस्कों के लिए बीएमआई मूल्यों की सीमा है:

कम वजन: बीएमआई 18 से कम।

सामान्य वजन: बीएमआई 18 से 25 के बीच।

ज्यादा वजन: बीएमआई 25 से 30 के बीच।

मोटापा: बीएमआई 30 से ज्यादा।

Weight chart maleअपने निर्माण के बारे में सोचना निर्धारित करने का अन्य तरीका है कि आपको कितना वजन करना चाहिए। क्या आप लार्ज या स्मॉल बोन वाले व्यक्ति हैं? क्या आपके पास ज्यादा या कम मसल मांस है? अगर हां, तो इन कारकों से आपका औसत वजन प्रभावित हो सकता है। औसत वजन को प्रभावित करने वाले कारकों में ऊंचाई, शारीरि प्रकार और मसल मांस शामिल हैं। आमतौर पर लम्बे पुरुषों का वजन छोटे पुरुषों से ज्यादा होता है। इसके अलावा ज्यादा मांसपेशियों वाले पुरुषों का वजन भी कम मांसपेशियों के मुकाबले ज्यादा हो सकता है। 

वजन चार्ट के उपयोग पता लगा सकते हैं कि आपको कितना वजन करना चाहिए। यह तरीका आपकी ऊंचाई और फ्रेम के आकार पर आधारित है। इसके लिए चार्ट के बाईं तरफ ऊंचाई देखें। फिर, फ्रेम का आकार मिलने तक दाईं तरफ आगे बढ़ें और कॉलम के ऊपर की संख्या आपका आदर्श वजन होता। याद रखें कि यह सिर्फ सामान्य दिशानिर्देश हैं। ऐसे में डॉक्टर या पंजीकृत आहार विशेषज्ञ से परामर्श आदर्श वजन निर्धारित करने का बेहतरीन तरीका है। वह अलग परिस्थितियों और स्वास्थ्य लक्ष्यों को ध्यान में रखकर आपकी मदद कर सकते हैं।

औसत वजन से अपने वजन की तुलना – Compare Your Weight With Average Weight In Hindi

हम आपको पहले भी यह बता चुके हैं कि आदर्श वजन जैसी कोई चीज नहीं होती है। हालांकि, औसत वजन यह सोचने के लिए एक प्रारंभिक बिंदु दे सकता है कि स्वस्थ साइड पर कौन सी सीमा गिर जाएगी। अगर आपका वजन औसत से काफी कम या ज्यादा है, तो आपको डॉक्टर से बात करके यह जानना चाहिए कि आप स्वस्थ हैं या नहीं।

2016 में किए गए एक अमेरिकी अध्ययन में पुरुषों का औसत वजन 196 पाउंड पाया गया। इसका मतलब अगर किसी पुरुष का वजन 196 पाउंड से कम है, तो उन्हें कम वजन वाला माना जा सकता है। हालांकि, अगर आपका वजन 196 पाउंड से ज्यादा है, तो इसका मतलब आपका वजन ज्यादा होना है।

आदर्श वजन कैसे निर्धारित करें – How To Determine Ideal Weight In Hindi

आदर्श वजन वह है, जो आपकी ऊंचाई और उम्र के अनुकूल हो। यह वजन आपको सहज और आत्मविश्वासी महसूस कराता है। अपना आदर्श वजन पता लगाने का सबसे अच्छा तरीका अनुभवी डॉक्टर या पंजीकृत आहार विशेषज्ञ से बात करना है। वह अलग परिस्थितियों और स्वास्थ्य लक्ष्यों को ध्यान में रखते हुए आपकी मदद करते हैं।

आपको हमेशा ध्यान रखना चाहिए कि हर किसी के लिए आदर्श वजन जैसी कोई चीज नहीं होती है। ऐसा इसलिए है, क्योंकि हम सभी का शारीरिक प्रकार और स्वास्थ्य लक्ष्य अलग-अलग हैं। ऐसा वजन होना सबसे ज्यादा मायने रखता है, जो आपके लिए स्वस्थ है और आपको अच्छा महसूस कराता है। स्वस्थ आहार खाने और नियमित व्यायाम करने जैसे कदम उठाने से आपको स्वस्थ वजन तक पहुंचने और इसे बनाए रखने में मदद मिल सकती है।

औसत वजन पर कारकों का प्रभाव – Effect Of Factors On Average Weight In Hindi

ऐसे कई कारक हैं, जिन्हें आपके औसत वजन को प्रभावित करने के लिए जिम्मेदार माना जा सकता हैं। औसत वजन को प्रभावित करने वाले ऐसे ही कुछ अन्य कारकों में शामिल हैं:

ऊंचाई

ऊंचाई उन मुख्य कारकों में से एक है, जिन्हें आपका औसत वजन प्रभावित करने के लिए जिम्मेदार माना जा सकता है। सामान्य तौर पर लम्बे पुरुषों का वजन छोटे पुरुषों की तुलना में ज्यादा है। इस प्रकार अलग-अलग कद के पुरुषों का आदर्श वजन भी अलग-अलग होता है।

शारीरिक प्रकार

Body type

शारीरिक प्रकार को आपके शरीर में मांसपेशियों, वसा और हड्डी की मात्रा से परिभाषित किया जाता है। ज्यादा मांसपेशियों वाले लोगों का वजन कम मांसपेशियों वाले लोगों की तुलना में ज्यादा होता है। हालांकि, आपके लिए यह याद रखना जरूरी है कि मांसपेशियों का वजन वसा से ज्यादा होता है। इसलिए, भले ही दो लोगों का बीएमआई मिलता-जुलता हो, ज्यादा मांसपेशियों वाले व्यक्ति का वजन भी ज्यादा होगा।

उम्र

जैसे-जैसे आपकी उम्र बढ़ती है, वैसे ही आपका वजन भी बदल सकता है। ऐसा इसलिए है, क्योंकि आमतौर पर उम्र के साथ मांसपेशियों में कमी आती है। छोटे वयस्कों में बड़े वयस्कों की तुलना में ज्यादा मांसपेशी द्रव्यमान होता है, इसलिए उनका वजन भी ज्यादा हो सकता है।

स्वास्थ्य स्थिति

कुछ स्वास्थ्य स्थितियां भी आपके वजन को प्रभावित कर सकती हैं। उदाहरण के लिए, हाइपोथायरायडिज्म वाले पुरुषों में बिना अन्य पुरुषों की तुलना में कम औसत वजन होता है। इसके अलावा उन पुरुषों का औसत वजन ज्यादा हो सकता है, जो गठिया जैसी सूजन पैदा करने वाली स्थितियों से पीड़ित हैं।

लिंग

लिंग एक अन्य कारक है, जो आपके औसत वजन को प्रभावित कर सकता है। सामान्य तौर पर पुरुषों का वजन महिलाओं की तुलना में ज्यादा होता है। ऐसा इसलिए है, क्योंकि पुरुषों में महिलाओं से ज्यादा मांसपेशियां और शरीर में कम वसा होती है। साथ ही वह महिलाओं की तुलना में ज्यादा लंबे भी होते हैं।

आनुवंशिकी

आनुवंशिकी का मतलब है कि कुछ पुरुष ज्यादा वजन या मोटापे से ग्रस्त हो सकते हैं। ऐसा इसलिए है, क्योंकि उनके पास शरीर में वसा जमा करने की ज्यादा संभावना रखने वाले जीन होते हैं। अगर आपके पास मोटापे का पारिवारिक इतिहास है, तो आपके ज्यादा वजन होने की संभावना है।

हार्मोनल बदलाव

हार्मोनल बदलाव भी आपके वजन को प्रभावित करने वाला अन्य अहम कारक है। उदाहरण के लिए, जिन पुरुषों में टेस्टोस्टेरोन का स्तर कम होता है, उनका औसत टेस्टोस्टेरोन स्तर वाले पुरुषों की तुलना में औसत वजन कम हो सकता है।

यह कुछ ऐसे कारक हैं, जो आपके वजन को प्रभावित करने में योगदान कर सकते हैं। इसलिए, अपने औसत वजन पर विचार करते समय इन सभी कारकों को ध्यान में रखने की कोशिश करें।

औसत वजन के लिए सुझाव – Tips For Average Weight In Hindi

स्वस्थ वजन बनाए रखने और पुरुषों के लिए औसत वजन हासिल करने में मदद के लिए आप कुछ तरीके आज़मा सकते हैं। यह सुझाव आपको ट्रैक पर बने रहने, स्वस्थ विकल्प बनाने और लक्ष्यों को पाने में मदद करते हैं। इनमें शामिल हैं:

कम वजन वाले पुरुषों के लिए सुझाव

अगर आपका वजन कम है, तो आपको वजन बढ़ाने की जरूरत हो सकती है। यहां कुछ सुझाव दिए गए हैं, जो आपके लिए बहुत फायदेमंद हो सकते हैं:

दिन में तीन बार भोजन करना

दिन में तीन बार भोजन करने से आपको जरूरी कैलोरी और पोषक तत्व प्राप्त करने में मदद मिल सकती है। इसके लिए अपने आहार में लीन प्रोटीन, स्वस्थ वसा और जटिल कार्बोहाइड्रेट शामिल करना सुनिश्चित करें। प्रोटीन के अच्छे स्रोतों में चिकन, मछली, अंडे और टोफू जैसे खाद्य पदार्थ शामिल  हैं। जबकि, एवोकाडो, नट्स और जैतून के तेल को स्वस्थ वसा का अच्छा स्रोत माना जाता है। इसके अलावा कॉम्प्लेक्स कार्बोहाइड्रेट में साबुत अनाज, फल और सब्जियां शामिल हैं।

कैलोरी की मात्रा बढ़ाना

Increase your calorie intakeअगर आपका वजन कम है, तो आपको अपनी कैलोरी की मात्रा बढ़ाने की जरूरत हो सकती है। यह ज्यादा भोजन खाने से या ज्यादा कैलोरी वाले ​​खाद्य पदार्थों को चुनकर किया जा सकता है। नट्स, बीज, सूखे मेवे और दही जैसे खाद्य पदार्थ इसके अच्छे विकल्प हैं। इसके अलावा आप दूध, पीनट बटर और केले से बनी स्मूदी या शेक का सेवन भी कर सकते हैं।

नियमित व्यायाम

व्यायाम आपके शरीर में मांसपेशियों का निर्माण करता है, जिससे आपको वजन बढ़ाने में मदद मिल सकती है। इसके लिए हफ्ते में तीन बार स्ट्रैंथ ट्रेनिंग की प्रेक्टिस करना सुनिश्चित करें, जिसमें वजन उठाना, बॉडीवेट एक्सरसाइज या रेसिस्टेंस बैंड का उपयोग करना शामिल हो सकता है। आप हल्के वजन से इसकी शुरू करके धीरे-धीरे समय के साथ उठाए जाने वाले वजन को बढ़ा सकते हैं।

बार-बार नाश्ता करना

दिन भर में छोटे-छोटे नाश्ते यानी स्नैक्स के सेवन से आपको कैलोरी की मात्रा बढ़ाने में मदद मिल सकती है। इसके लिए फल, सब्जियों या साबुत अनाज वाले क्रैकर्स जैसे स्वस्थ स्नैक्स खाने की कोशिश करें। आप भोजन के बीच में फलों के जूस या दही का सेवन भी कर सकते हैं। इसके अलावा वजन बढ़ाने वाले सप्लीमेंट को भी आपके लिए बहुत फायदेमंद माना जाता है।

डॉक्टर या आहार विशेषज्ञ से परामर्श

अगर आपको वजन बढ़ाने में परेशानी हो रही है, तो आप डॉक्टर या आहार विशेषज्ञ से बात कर सकते हैं। वह एक स्वस्थ खाने की योजना बनाने में आपकी मदद करते हैं, जिससे आपको सुरक्षित और स्वस्थ तरीके से वजन बढ़ाने में मार्गदर्शन मिल सकता है।

ज्यादा वजन वाले पुरुषों के लिए सुझाव

अगर आप ज्यादा वजन वाले हैं, तो आपको अपना वजन कम करने की जरूरत हो सकती है। यहां कुछ सुझाव प्रदान किए गए हैं, जो वजन घटाने में आपकी मदद कर सकते हैं। ऐसे ही कुछ सुझाव निम्नलिखित हैं:

कैलोरी में कटौती

कम कैलोरी खाने से आप अपना वजन कम कर सकते हैं। आप इसे छोटे हिस्से खाकर या कम कैलोरी वाले खाद्य पदार्थ चुनकर कर सकते हैं। फल, सब्जियां और साबुत अनाज जैसे खाद्य पदार्थ इसके अच्छे विकल्प हैं। इसके अलावा आपको मीठे पेय, प्रसंस्कृत खाद्य पदार्थ, ज्यादा मात्रा में संतृप्त और अस्वस्थ वसा से भी बचना चाहिए।

गतिविधि का स्तर बढ़ाना

गतिविधि का स्तर बढ़ाने से आपको कैलोरी जलाने और वजन कम करने में मदद मिल सकती है। ऐसे में हफ्ते के ज्यादातर दिनों में कम से कम 30 मिनट की मध्यम-तीव्रता वाले व्यायाम करने की कोशिश करें। इसमें चलना, टहलना, साइकिल चलाना या स्विमिंग करना शामिल है। अपने कैलोरी जलाने को बढ़ावा देने के लिए आप एचआईआईटी यानी हाई-इंटेंसिटी इंटरवल ट्रेनिंग जैसे वर्कआउट भी कर सकते हैं।

ज्यादा प्रोटीन का सेवन

ज्यादा प्रोटीन खाने से आपको अपना वजन कम करने में मदद मिल सकती है। इससे आप अपनी मांसपेशियों को भी मजबूत बनाए रख सकते हैं। प्रोटीन के ऐसे ही अच्छे स्रोतों में चिकन, मछली, टोफू, फलियां और अंडे शामिल हैं। साथ ही आपको हर भोजन में प्रोटीन खाने की कोशिश करनी चाहिए। इससे आपको लंबे समय तक भरा हुआ महसूस करने और ज्यादा खाने से बचने में मदद मिल सकती है।

तनाव के स्तर में कमी

Reduce your stress levelsतनाव शरीर को वसा जमा करने के लिए ट्रिगर करता और आपका वजन बढ़ा सकता है। तनाव के स्तर को कम करने के लिए योग, ध्यान या गहरी सांस लेने वाले व्यायाम बहुत फायदेमंज हो सकते हैं। साथ ही आपको धूम्रपान और ज्यादा शराब के सेवन से भी बचना चाहिए। अगर आपको अपने तनाव को प्रबंधित करने में परेशानी हो रही है, तो आप किसी थेरेपिस्ट या काउंसलर से भी बात कर सकते हैं।

डॉक्टर या आहार विशेषज्ञ परामर्श

डॉक्टर या आहार विशेषज्ञ से बात करके आपको वजन घटाने की योजना बनाने में मदद मिल सकती है। यह योजना आमतौर पर बहुत सुरक्षित और प्रभावी होती है। इससे आपको स्वस्थ जीवनशैली के लिए बदलाव और मार्गदर्शन प्राप्त करने में भी मदद मिल सकती है। ऐसे में वजन घटाने की कोई भी योजना शुरू करने से पहले आपको अपने डॉक्टर से बात करनी चाहिए। अगर आपके पास कोई चिकित्सा स्थिति है, तो ऐसा करना खासतौर से जरूरी है।

औसत वजन वाले पुरुषों के लिए सुझाव

अगर आप औसत वजन वाले व्यक्ति हैं, तो आपको अपना वजन बनाए रखने की जरूरत हो सकती है। ऐसे ही कुछ सुझाव निम्नलिखित हैं, इसमें आपकी मदद कर सकते हैं:

संतुलित आहार खाना

अपने वजन को बनाए रखने के लिए संतुलित आहार का सेवन करना जरूरी है। ऐसे में फल, सब्जियां, साबुत अनाज और लीन प्रोटीन जैसे खाद्य पदार्थ आपके आहार का ज्यादातर हिस्सा होने चाहिए। इसके अलावा आपको मीठे पेय, प्रसंस्कृत खाद्य पदार्थ और संतृप्त वसा के सीमित सेवन की सलाह दी जाती है।

शारीरिक रूप से सक्रिय रहना

नियमित व्यायाम आपको अपना वजन बनाए रखने में मदद कर सकता है। ऐसे में हफ्ते के ज्यादातर दिनों में कम से कम 30 मिनट की मध्यम-तीव्रता वाले व्यायाम करने की कोशिश करें। इसमें चलना, टहलना, साइकिल चलाना या स्विमिंग करने जैसे विकल्प शामिल हो सकते हैं।

तनाव के स्तर का प्रबंधन

तनाव शरीर को वसा जमा करने के लिए ट्रिगर करता है और आपका वजन बढ़ा सकता है। तनाव का स्तर कम करने के लिए आपको योग, ध्यान या गहरी सांस लेने वाले व्यायाम करने की सलाह दी जाती है। इसके अलावा आपको धूम्रपान और ज्यादा शराब के सेवन से भी बचना चाहिए। अगर आपको अपना तनाव प्रबंधित करने में परेशानी हो रही है, तो आप किसी थेरेपिस्ट या काउंसलर से भी बात कर सकते हैं।

डॉक्टर या आहार विशेषज्ञ परामर्श

Talk to a doctor or dietitianअगर आपको अपना वजन बनाए रखने में परेशानी हो रही है, तो आप किसी अनुभवी डॉक्टर या आहार विशेषज्ञ से बात कर सकते हैं। वह एक स्वस्थ खाने की योजना बनाने और स्वस्थ जीवन शैली से जुड़े बदलाव के लिए आपका मार्गदर्शन कर सकते हैं। इस प्रकार अपनी आहार या व्यायाम दिनचर्या में कोई भी बड़ा बदलाव करने से पहले अपने डॉक्टर से संपर्क करना बहुत जरूरी है।

अपने वजन पर नज़र रखें

अपने वजन पर नजर रखना जरूरी है, ताकि जरूरत पड़ने पर आप जीवनशैली में बदलाव कर सकें। इसके लिए आपको हफ्ते में कम से कम एक बार अपना वजन तोलना और समय के साथ अपनी प्रोग्रेस को ट्रैक करना चाहिए। अगर आप नोटिस करते हैं कि आपका वजन बढ़ रहा है, तो आपको अपने आहार या व्यायाम दिनचर्या में बदलाव करने की जरूरत हो सकती है।

निष्कर्ष  Conclusion In Hindi

कुल मिलाकर पुरुषों के लिए औसत वजन सिर्फ एक उपाय है। ऐसा इसलिए है, क्योंकि ऊंचाई और शारीरिक संरचना जैसे कई अन्य कारक प्रभावित करते हैं कि किसी व्यक्ति का वजन कितना होना चाहिए। हालांकि, अगर आप अपने वजन को लेकर परेशान हैं, तो आपके लिए अनुभवी डॉक्टर या स्वास्थ्य सेवा प्रदाता से बात करना जरूरी है। वह निर्धारित करने में मदद करते हैं कि क्या आप स्वस्थ वजन पर हैं या क्या आपको बदलाव करने की जरूरत है। कम वजन या ज्यादा वजन होने से आपको कई स्वास्थ्य समस्याएं हो सकती हैं। इसलिए, आपको अपने वजन के बारे में सक्रिय रहने की सलाह दी जाती है। इसके लिए आप चार्ट और वॉयला पर अपनी ऊंचाई का पता सकते हैं, कि आपके पास आदर्श वजन है या नहीं। हालांकि, यह सिर्फ एक सामान्य मार्गदर्शक है और हर कोई व्यक्ति इस श्रेणी में पूरी तरह फिट नहीं होता है।

स्वस्थ भोजन और वजन घटाने के बारे में ज्यादा सुझावों के लिए आप मंत्रा केयर से संपर्क कर सकते हैं। हम आपकी विशेष जरूरतों और लक्ष्यों के अनुसार एक स्वस्थ वजन घटाने का कार्यक्रम विकसित करने में मदद करते हैं। अगर आपके पास नया आहार शुरू करने या वजन घटाने को लेकर कोई सवाल है, तो हमेशा की तरह एक पंजीकृत आहार या पोषण विशेषज्ञ से परामर्श करें। हम आपको अनुभवी पोषण विशेषज्ञों से जुड़ने में मदद के लिए ऑनलाइन पोषण परामर्श भी प्रदान करते हैं। इसलिए, हमारी सेवाओं के बारे में ज्यादा जानकारी या अपॉइंटमेंट शेड्यूल करने के लिए मंत्रा केयर की ऑफिशियल वेबसाइट mantracare.in पर विजिट करें। आप हमारी फिटमंत्रा ऐप भी डाउनलोड कर सकते हैं।